नाबार्ड योजना 2021, Nabard Dairy Yojana 2021, लाभ व विशेषताएं

नाबार्ड योजना में आवेदन कैसे करे?, Nabard Dairy Yojana Online ragistration , इस योजना के लाभ क्या है? इसकी पात्रता और मुख्य दस्तावेज

देश को फार्मिंग के क्षेत्र में आगे बढ़ाने के लिए सरकार द्वारा प्रयास जारी है, ऐसे में देश में रोजगार का स्तर भी बढ़ेगा और बेरोजगारी का भी आकड़ा घटेगा. अभी हम आज के इस आर्टिकल में चर्चा करने जा रहे है केंद्र सरकार द्वारा डेयरी फार्मिंग को व्यवस्थित करने के लिए शुरू कि गयी एक नयी और काफी लाभदायक योजना के बारे में. जिसका नाम है ‘नाबार्ड योजना’.

दोस्तों Nabard Dairy Yojana के अंतर्गत सरकार द्वारा ग्रामीण क्षेत्रों के लोगों को डेयरी फार्मिंग को लेकर व्यवसाय शुरू करने के लिए मदद कि जाएगी, इसमें उन्हें अपना काम व्यवस्थित करने के लिए कम ब्याज दर पर लोन प्रदान किया जायेगा. इस योजना का लाभ कैसे ले सकते है, इसके क्या लाभ होंगे, इसमें आवेदन करने कि प्रक्रिया क्या होगी, इन सभी के बारे में हम विस्तार से जानकारी साझा करने जा रहे है, इसके बारे आपको जानने के लिए हमारा यह आर्टिकल पढ़ना होगा.

जानिए नाबार्ड योजना के बारे में-

जैसा कि आप सभी जानते है बीते साल देश में कोरोना जैसी भयानक बीमारी ने दस्तक दी थी, ऐसे में सभी की हालत ख़राब हो गयी थी. ऐसे बुरे समय में सरकार द्वारा भी लोगो की तुरंत मदद की गयी और उन्हें इस आपदा से निकलाने की सफल कोशिश भी की गयी है. वही अब देश के हालत ठीक हो रहे है, ऐसे में गड़बड़ाई हुई देश की आर्थव्यवस्था को सुधारने के साथ ही सरकार द्वारा यह कोशिश की जा रही है किसानो की आय में भी बढ़ोत्तरी हो. ग्रामीण क्षेत्र के लोग आत्मनिर्भर बने.

वही इस साल के बजट में देश की वित् मंत्री निर्मल सीतारमण द्वारा 30,000 करोड़ रुपये की अतिरिक्त पुनर्वित्त सहायता देने की घोषणा की गयी है. वही बता दे कि यह जो राशि है वह इसमें पहले से आवंटित राशि 90 हजार करोड़ रुपए में से अलग है. यह जो राशि है वह देश कि कोऑपरेटिव बैंक्स के द्वारा सरकारों को भेजा जायेगा. सरकार द्वारा इस योजना को जारी करने से देश के 3 करोड़ किसानों को इसका फायदा मिलेगा.

Nabard Dairy Yojana के अंतर्गत दूध के उत्पादन के लिए डेयरी फार्म की स्थापना करने में सरकार द्वारा बढ़ावा दिया जायेगा. इसके साथ ही दूध उत्पादन से लेकर गाय या भैंसों की देखरेख, गायों की रक्षा के लिए, घी बनाने आदि सब कुछ मशीन-आधारित रहेगा.

Nabard Dairy Yojana 2021

योजना निवेश सब्सिडी
इस पहली योजना के अंतर्गत लाल सिन्धी, साहिवाल, राठी, गिर आदि जैसी देसी दूध देने वाली गायें/ हाइब्रिड गायें/ 10 दुधारू पशुओं, भैंसों के लिए छोटे डेयरी यूनिट की स्थापना करना2 पशुओं से लेकर 10 साल डेयरी खोलने के लिए, 10 जानवरों की डेयरी-5,00,000 रुपये10 पशु डेयरी पर 25% (एससी / एसटी किसानों के लिए रूपरेखा 33.33%), पूँजी सब्सिडी सीमा, 1.25 लाख रुपये (अनुसूचित जाति / अनुसूचित जनजाति से संबंधित किसानों हेतु 1.67 लाख रुपये), अधिकतम अनुमति पूँजी सब्सिडी 2 पशु इकाई के लिए 25000 रुपये है (अनुसूचित जाति / अनुसूचित जनजाति किसानों के लिए 33,300 रुपये)
बछिया बछड़ों के पालन 20 बछड़ों इकाइयों के लिए 80 लाख20 बछड़ों तक की यूनिट खोलने के लिए 25% तक की सब्सिडी दी जाएगी. यह सब्सिडी 1,25,000/- तक की पूंजी पर दी जाएगी. वही SC/ST कैटेगरी के लोगों को 1,60,000/- तक की पूंजी मिल जाएगी| कैटेगरी के लोगों को सब्सिडी में 33.33% तक मिल जाएंगे. राशि के हिसाब से अधिकतम 30,000/- की सब्सिडी, 5 बछड़े की यूनिट खोलने पर दी जाएगी. वही कैटेगरी के लोगों के लिए यह सब्सिडी राशि 40,000/- तय की गई है.
वर्मीकंपोस्ट और खाद20,000 रुपयेस योजना के अंतर्गत अगर कोई व्यक्ति 4.50 लाख रुपए का निवेश करता है तो उसे 25% तक की सब्सिडी मिल जाएगी. वही अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति के आवेदक को 6 लाख रुपए तक की पूंजी पर 33.33% की सब्सिडी मिल जाएगी.
दूध परीक्षकों/ दूध निकालने की मशीनों पर खरीद/ अधिक मात्रा में दूध होने पर उसे ठंडा रखने के लिए फ्रिज18 लाख रुपए तक का निवेश4.50 लाख रुपये (अनुसूचित जाति / अनुसूचित जनजाति किसानों के लिए 6.00 लाख रुपये) की पूँजी सब्सिडी के तहत व्यय का 25% (अनुसूचित जातियों / अनुसूचित जनजाति किसानों के लिए 33.33%).
स्वदेशी दूध उत्पादों का उत्पादन करने के लिए डेयरी प्रसंस्करण के उपकरण की खरीद न्यूनतम 12  लाख रुपये का निवेश व्यक्ति को 3,00,000/- तक की पूंजी लोन के तहत दी जाएगी. जिस पर उसे 25% की सब्सिडी मिलेगी. वही अगर व्यक्ति अनुसूचित जाति या अनुसूचित जनजाति से संबंध रखता है, तो उसे 4,00,000/- तक की पूंजी मिल जाएगी. जिस पर उसे 33.33% की सब्सिडी मिलेगी.
डेयरी उत्पाद परिवहन सुविधाएँ और शीत श्रृंखला स्थापनान्यूनतम राशि 24 लाख रुपयेसरकार द्वारा अधिकतम 7,50,000/- तक का लोन दिलाया जाएगा. इस लोन पर व्यक्ति को 25% की सब्सिडी मिलेगी. SC/ST जाति से संबंध रखने वाले व्यक्तियों को 10 लाख रुपए तक का लोन मिल जाएगा. जिस पर उन्हें 33.33% की सब्सिडी भी मिलेगी.
दूध और दुग्ध उत्पादों के लिए शीत भंडारण सुविधा30 लाख रुपये निवेशचिकित्सालय खोलने पर किसी भी व्यक्ति को कुल खर्च का 25% हिस्सा संस्कार द्वारा दिया जाएगा. वही मोबाइल होने पर सरकार द्वारा 45,000/- की सब्सिडी, और स्थिर होने पर 60,000/- तक की सब्सिडी प्रदान की जाएगी. अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति के आवेदकों को कुल खर्च का 33.33% हिस्सा सरकार द्वारा दिया जाएगा. चिकित्सालय मोबाइल होने की स्थिति में उन्हें अधिकतम 80,000/-, एवं स्थिर होने की स्थिति में होने 60,000/- तक की सब्सिडी राशि मिलेगी.
निजी पशु चिकित्सा क्लिनिक की स्थापनामोबाइल क्लिनिक के लिए 2.40 लाख रुपये और स्थिर क्लिनिक के लिए 1.80 लाख रुपये का निवेश व्यय का 25% (अनुसूचित जातियों / अनुसूचित जनजाति किसानों के लिए 33.33%). 45,000 / – और 60,000 / – रुपये की पूंजी सब्सिडी (अनुसूचित जाति / अनुसूचित जनजाति किसानों के लिए 80,000 / – रुपये और 60,000 / -) मोबाइल और स्थिर क्लीनिक के लिए.
डेयरी मार्केटिंग आउटलेट / डेयरी पार्लर56 हजार रुपये का निवेशपूँजी सब्सिडी विषय व्यय के लिए 25% या 14,000 रुपये (SC /ST किसानों के लिए 33.33%) की सीमा के रूप में समाप्त होता है – (अनुसूचित जातियों / अनुसूचित जनजातियों के लिए 18600 रुपये).

HIGHLIGHTS : Nabard Dairy Farming Yojana

  • Nabard Dairy Farming Yojana के अंतर्गत किसान, उद्यमी, कंपनियां, गैर सरकारी संगठन, संगठित समूह, असंगठित क्षेत्र आदि लाभ ले सकते है.
  • वही इस योजना के अंतर्गत लोन देने वाली बैंक निम्न प्रकार से है- व्यवसायिक बैंक, क्षेत्रीय बैंक, राज्य सहकारी बैंक, राज्य सहकारी कृषि और ग्रामीण विकास बैंक.
  • इस योजना से देश में डेयरी फार्म की स्थापना को बढ़ावा दिया जायेगा.
  • वही देश में से देश से बेरोजगारी खत्म हो जाएगी.
  • इस योजना के बाद नागरिको को खुद का व्यवसाय खोलने का अवसर मिलेगा इसके साथ ही देश में रोजगार के स्तर बढ़ेंगे और बेरोजगारी का आकड़ा कम होगा.
  • वही दुग्ध उत्पाद यानि कि मिल्‍क प्रोडक्‍ट बनाने की यूनिट शुरू करने के लिए भी सरकार द्वारा सब्सिडी दी जाती है.
  • इस योजना के तहत लाभ लेते हुए आप दुग्ध उत्पाद की प्रोसेसिंग के लिए उपकरण खरीद सकते हैं.
  • वही इस योजना के तहत SC/ST कैटेगरी के लिए 4.40 लाख रुपये की सब्सिडी मिल सकती है.

जानिए नाबार्ड डेयरी सब्सिडी योजना की पात्रता के बारे में-

दोस्तों Nabard Dairy Farming के अंतर्गत अगर आप लाभ लेना चाहते है तो इससे पहले आप इसकी पात्रता के बारे में जान ले, हम आपको नीचे इसकी पात्रता के बारे में सम्पूर्ण जानकारी देने जा रहे है. इसको जानने के लिए आपको हमारा यह पूरा आर्टिकल पढ़ने की ज़रूरत है. इसके बारे में पात्रता निम्न है-

  • इसका लाभ लेने के लिए जो लोग आवेदन कर सकते है वह यह है- किसान, व्यक्तिगत उद्यमी, गैर-सरकारी संगठन, कंपनियां, असंगठित और संगठित क्षेत्र समूह आदि.
  • वही एक व्यक्ति इस योजना का एक बार ही लाभ उठा सकता है, अगर वह दोबारा इस योजना के अंतर्गत आवेदन करता है तो वह इसके पात्र नहीं होगा.
  • वही इस योजना के अंतर्गत फायदा यह है कि एक परिवार के कई सदस्य इस योजना का लाभ ले सकते है सरकार द्वारा उन्हें अलग जगहों पर विभिन्न प्रकार की इकाइयों की स्थापना करने में मदद प्रदान की जाएगी.
  • वही इसमें अगर कोई लाभ लेता है तो इकाइयों के बीच दूरी कम से कम 500 मीटर होनी चाहिए.

जानिए नाबार्ड योजना 2021 ऑनलाइन आवेदन करने की प्रक्रिया-

दोस्तों जो भी इक्छुक इस योजना के अंतर्गत आवेदन करना चाहता है वह हमारे द्वारा बताई जा रही प्रक्रिया को फॉलो करे

  • सबसे पहले आवदेन करने के लिए आपको National Bank For Agriculture And Rural Development Nabard की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाना है.
Nabard Dairy Farming Yojana
  • इसके बाद होम पेज में Information Centre के ऑप्शन पर क्लिक करना है.
  • अब आपके सामने एक नया पेज खुल जायेगा, इसमें आपको जिस योजना का pdf चाहिए उस पर क्लिक करना है .
  • इसपर क्लिक करने से यह फॉर्म खुलेगा फिर इसमें पूछी सभी जानकारी को भरना है और सबमिट कर देना है.

जानिए नाबार्ड योजना 2021 ऑफलाइन आवेदन करने की प्रक्रिया

ऑफलाइन आवेदन करने के लिए सबसे पहले इस बात का फैसला कर ले की आपको किस तरह का डेयरी फॉर्म खोलना हैं. इसके बाद जिले के नाबार्ड ऑफिस में जाना है. इसके साथ ही नजदीकी बैंक में जाकर भी जानकारी प्राप्त कर सकते हैं, दोस्तों अगर आप बैंक गए है तो यहां आपको सब्सिडी फॉर्म लेकर उसे भरना है फिर वही अप्लाई करना है. इसके साथ ही अगर आवेदक को बड़ा प्रोजेक्ट शुरू करना है और इसकी राशि भी ज्यादा है तो उसे नाबार्ड में अपनी प्रोजेक्ट रिपोर्ट को जमा करना होगा.

Nabard Dairy Farming Yojana FaQs

नाबार्ड डेयरी फार्मिंग योजना क्या है ?

दोस्तों यह सरकार द्वारा शुर की गयी ऐसी योजना है जिसमें डेयरी फार्मिंग से संबंधित अपना व्यवसाय खोलने के लिए सरकार द्वारा मदद की जाएगी यानि की उन्हें कम दर पर लोन दिया जायेगा.

नाबार्ड डेयरी फार्मिंग योजना के लाभ क्या है ?

इस योजना के आने के बाद देश में रोजगार के अवसर बढ़ेंगे, कम ब्याज दर पर लोन मिलेगा आदि.

इसमें कैसे आवेदन कर सकते है ?

दोस्तों इसमें आवेदन करने के लिए ऑनलाइन भी प्रक्रिया है और ऑफलाइन भी, हमने आपको अपने इस आर्टिकल के माध्यम से दोनों के बारे में. बताया है, आप ऊपर जाये हमारा पूरा आर्टिकल पढ़े और ढेर सारी जानकारी प्राप्त करे

किस किस क्षेत्र में इस योजना का लाभ ले सकते है ?

दोस्तों, हमने आपको इस बारे में पूरी जानकारी विस्तार से इस आर्टिकल में बताई है इस बारे में जानने के लिए आपको हमारा यह पूरा आर्टिकल पढ़ने की ज़रूरत है.

Leave a Comment