पोस्ट ऑफिस सेविंग स्कीम 2021, Post Office Saving Scheme 2021, दस्तावेज और पात्रता

जानिए इसके बारे में पूरी जानकारी, how to apply ? क्या है दस्तावेज और पात्रता? जानिए आवेदन कैसे करे? Post Office Saving Yojna

देश में केंद्र सरकार द्वारा नागरिको को सेविंग करने के लिए कई सुविधाएं प्रदान की जाती है. ऐसे में सरकार के साथ ही पोस्ट ऑफिस भी कई सारी सेविंग स्कीम लेकर आया है. जिससे की सभी नागरिक पैसे की बचत कर सकते है. अभी हम बात करने जा रहे है पोस्ट ऑफिस सेविंग स्कीम 2021 से संबंधित सभी जानकारी के बारे में, जैसे की यह योजना क्या है?

इसके अंतर्गत कैसे लाभ ले सकते है?, इसकी पात्रता क्या है ? कौनसी-कौनसी योजनाए इसमें शामिल है? इसका उद्देश्य, बजाय दर कितनी होगी? मुख्य दस्तावेज? आदि के बारे में हम आपको सम्पूर्ण जानकारी अपने इस आर्टिकल के माध्यम से देने जा रहे है. इसके बारे में अधिक जानकारी प्राप्त करने के लिए आपको हमारे द्वारा लिखा जा रहा यह आर्टिकल पूरा पढ़ना है.

post office goverment yojna

जानिए पोस्ट ऑफिस सेविंग स्कीम 2021 क्या है?

इंडिया पोस्ट द्वारा कई सारी सेविंग्स स्कीम चलाई जा रही है, ऐसे में पब्लिक प्रोविडेंट फंड, सुकन्या समृद्धि योजना, नेशनल सेविंग सर्टिफिकेट, पोस्ट ऑफिस मंथली इनकम स्कीम आदि योजनाओ की शुरुआत की गयी गई है. इन योजनाओ के बारे में विस्तार से जानकारी हम आपको इस आर्टिकल में प्रदान करने जा रहे है.

वही बता दे की सभी वर्ग के लोग Post Office Saving Scheme के अंतर्गत लाभ ले सकते है. इस योजना में निवेश करने वाले निवेशकों को इनकम टैक्स एक्ट के सेक्शन 80 C के अंतर्गत कर छूट दी जाएगी. इसमें लाभ लेने से भविष्य के लिए नागरिक अपने पैसे की बचत कर सकते है इसके साथ ही वह अपनी आर्थिक स्थिति को मजबूत कर सकते है.

Types OF Scheme

पोस्ट ऑफिस सेविंग अकाउंट : इस योजना के अंतर्गत यह अकाउंट बैंक अकाउंट जैसे ही होता है , इसके माध्यम से पैसा जमा कर सकते है और निकल सकते है. इसके साथ ही इसमें पैसे रखने की बजाय दर 4% रखी गई है. इसके साथ ही इस अकाउंट में 50 की न्यूनतम राशि रखना ज़रूरी है.

पोस्ट ऑफिस टाइम डिपॉज़िट स्कीम: इस स्कीम में आपको ज्यादा पैसे निवेश करने की ज़रूरत नहीं है आप न्यूनतम राशि 200 रुपये तक निवेश कर सकते है. इस स्कीम के अंतर्गत खोले गए खाते को दूसरे में भी ट्रांसफर किया जा सकता है. इसके साथ ही इसमें एक साल के लिए डिपॉज़िट करने पर 5.5% की ब्याज दर है,

2 साल और 3 साल के लिए भी 5.5 % की ब्याज दर है. इसके साथ ही 5 साल के लिए डिपॉज़िट करने पर 6.7% की ब्याज दर है. इसके साथ ही प्रीमेच्योर क्लोजर करने की अवधि अकाउंट खुलवाने के 6 महीने बाद है और स्कीम मेजोरिटी 1 साल, 2 साल, 3 साल, 5 साल निवेशक की स्थिति के हिसाब से रहेगी.

सुकन्या समृद्धि स्कीम: इस स्कीम में लड़कियों को काफी लाभ मिलेगा, इसमें न्यूनतम राशि 1000 रुपये निवेश कर सकते है, इस स्कीम में 7.6 प्रतिशत की ब्याज दर रखी गयी है. यह स्कीम वृत्तीय वर्ष के लिए है, इसमें निवेशक को 15 साल तक निवेश करना होगा. वही स्कीम मेजोरिटी निवेश करने की तिथि से 15 साल बाद है. इसके साथ ही प्रीमेच्योर क्लोजर करने की अवधि अकाउंट खुलवाने के 5 साल बाद है.

नेशनल सेविंग सर्टिफिकेट: इस स्कीम में निवेशक को 5 साल तक निवेश करना है. इसमें 6.8 प्रतिशत की बजाय दर रखी गयी है. इसमें निवेश करने के लिए न्यूनतम राशि 100 रुपये निर्धारित की गई है. इसके साथ ही प्रीमेच्योर क्लोजर करने की अवधि अकाउंट खुलवाने के 5 साल बाद है. वही स्कीम मेजोरिटी निवेश करने की तिथि के 5 साल बाद है.

पब्लिक प्रोविडेंट फंड: इस स्कीम में निवेशक को न्यूनतम राशि 500 रुपये निवेश करने है, वही इसमें 7.1 प्रतिशत की ब्याज दर निर्धारित की गई है. यह स्कीम लॉन्ग टर्म में जोकि 15 साल तक के लिए है. इस स्कीम की मेजोरिटी अकाउंट खुलवाने के 15 साल बाद है. इसके साथ ही प्रीमेच्योर क्लोजर करने की अवधि अकाउंट खुलवाने के 5 साल बाद है.

sukanya yojna

सीनियर सिटीजन सेविंग स्कीम: इस स्कीम में निवेश की आयु निर्धारित की गयी है, 60 वर्ष से अधिक आयु वाले नागरिक इसमें निवेश कर सकते है. बजाय दर 7.4 प्रतिशत है. इसके साथ ही इस स्कीम के अंतर्गत निवेशक के निवेश करने की अधिकतम राशि 15,00,000 रुपए निर्धारित की गई है. इस स्कीम में निवेशक का अकाउंट कभी भी क्लोज करवाया जा सकता है. इस स्कीम का मेजॉरिटी अकाउंट खुलवाने के 5 साल बाद है.

किसान विकास पत्र: इस स्कीम का लाभ केवल देश के किसान ले सकते है इसमें निवेश करने के लिए न्यूनतम राशि 1000 रुपये है और बजाय दर 6.9 प्रतिशत है. इसके साथ ही इसका कार्यकाल 9 साल 4 महीने का है. इस स्कीम का मेजॉरिटी समय-समय पर वित्त मंत्रालय द्वारा निर्धारित किया जाएगा. वही प्रीमेच्योर क्लोजर करने की अवधि निवेश करने के 2 साल 6 महीने बाद तक ही है.

पोस्ट ऑफिस रिकरिंग डिपॉजिट: यह स्कीम एक 5 साल के लिए है. इसमें हर महीने निवेशक को राशि जमा करनी है. इसकी ब्याज दर 5.8 प्रतिशत है. निवेश करने के लिए न्यूनतम राशि 10 रखी गई है. इस योजना में मिलने वाला ब्याज कर योग्य है. वही प्रीमेच्योर क्लोजर करने की अवधि अकाउंट खुलवाने के 3 साल बाद है. इसके साथ ही मेजॉरिटी पीरियड अकाउंट खुलवाने के 5 साल बाद है.

पोस्ट ऑफिस मंथली इनकम स्कीम: यह महीने की आय के अनुसार रहेगी इसमें निवेशक को न्यूनतम राशि 1500 रुपए निवेश करनी है. इसमें 6.6 प्रतिशत ब्याज दर निर्धारित की गयी है. इसका मेजॉरिटी पीरियड खुलवाने के 5 साल बाद तक है. इसके साथ ही प्रीमेच्योर क्लोजर करने की अवधि अकाउंट खुलवाने के 1 साल बाद की है.

वही पोस्ट ऑफिस सेविंग स्कीम न्यूनतम तथा अधिकतम सीमा 450000 सिंगल अकाउंट में और जॉइंट अकाउंट में 900000 रुपये है. वही बता दे कि इस योजना के अंतर्गत कोई छूट नहीं दी जाएगी और ब्याज भी पूरी तरह से कर योग्य है.

 टैक्सेबिलिटी

स्कीम्स के प्रकारटैक्सेबिलिटी
किसान विकास पत्रआयकर अधिनियम के धारा 80 C के अंतर्गत अधिकतम ₹150000 तक की निवेश पर छूट दी गई है.
पोस्ट ऑफिस टाइम डिपॉजिटआयकर अधिनियम की धारा 80 C के अंतर्गत डेढ़ लाख रुपए की प्रति वर्ष कर कटौती प्रदान की जाएगी.
पोस्ट ऑफिस रिकरिंग डिपॉजिट अकाउंट 5 years ब्याज पूरी तरह से कर योग्य
पोस्ट ऑफिस सेविंग्स अकाउंटआयकर अधिनियम की धारा 80 C के अंतर्गत अर्जित ब्याज तथा परिपक्वता राशि कर मुक्त है। तथा डेढ़ लाख रुपए की कर कटौती भी है.
सीनियर सिटीजन सेविंग स्कीमधारा 80 क के अंतर्गत ₹150000 तक की कर छूट तथा ब्याज पर ₹50000 तक की टीडीएस रेबेट.
सुकन्या समृद्धि अकाउंटब्याज पर 50000 तक की कर छूट
पोस्ट ऑफिस मंथली इनकम स्कीमकोई छूट नहीं, ब्याज कर योग्य
नेशनल सेविंग सर्टिफिकेटधारा 80 C के अंतर्गत डेढ़ लाख रुपए की कर छूट.
पब्लिक प्रोविडेंट फंडब्याज पर टीडीएस अर्जित लेकिन परिपक्वता राशि कर मुक्त.

फीस

डुप्लीकेट पासबुक 50
अकाउंट की स्टेटमेंट या फिर डिपॉजिट रिसिप्ट 20
खोई हुई या फिर कटे-फटे प्रमाण पत्र के बदले पासबुक जारी करना10
नामांकन रद्द करना50
खाते का हस्तांतरण100
खाते की प्रतिज्ञा100
बचत बैंक खाते में चेक बुक जारी करना10 चेक तक कोई फीस नहीं उसके बाद ₹2 प्रति चेक
चेक के डिस ओनर होने पर शुल्क100

स्कीम रूल्स

स्कीम्सरूल्स
पोस्ट ऑफिस सेविंग्स अकाउंटयहां क्लिक करें
नेशनल सेविंग्स रिकरिंग डिपॉजिट अकाउंटयहां क्लिक करें
नेशनल सेविंग टाइम डिपॉजिट अकाउंटयहां क्लिक करें
नेशनल सेविंग मंथली इनकम अकाउंटयहां क्लिक करें
सीनियर सिटीजन सेविंग स्कीम अकाउंटयहां क्लिक करें
पब्लिक प्रोविडेंट फंड अकाउंटयहां क्लिक करें
सुकन्या समृद्धि अकाउंटयहां क्लिक करें
नेशनल सेविंग सर्टिफिकेटयहां क्लिक करें
किसान विकास पत्रयहां क्लिक करें

जानिए आवेदन करने की पात्रता और मुख्य दस्तावेज

जो भी इक्छुक लोग Post Office Saving Scheme में आवेदन करने जा रहे है तो इससे पहले इसकी पात्रता और मुख्य दस्तावेज के बारे में विस्तार से जान ले. हम आपको अपने आर्टिकल में आगे इस बारे में समूर्ण जानकारी प्रदान करने जा रहे है. निचे बताई जा रही पात्रता निम्न है.

पात्रता

  • आवेदक का भारत का स्थाई निवासी होना अनिवार्य है.

मुख्य दस्तावेज

  • आवेदक का आधार कार्ड
  • पहचान पत्र
  • बैंक पासबुक
  • पैन कार्ड
  • पासपोर्ट फोटोग्राफ
  • मोबाइल नंबर
  • स्थाई निवासी प्रमाण

जानिए इस योजना के अंतर्गत आवेदन करने की प्रक्रिया

जो भी इक्छुक नागरिक Post Office Saving Scheme के अंतर्गत आवेदन कर इसका लाभ लेना चाहते है तो, वह हमारे द्वारा बताई जा रही प्रक्रिया को फॉलो कर आसानी से कर सकते है. इसमें आवेदन करने की प्रक्रिया के बारे में हम आपको विस्तार से अपने इस आर्टिकल के माध्यम से बताने जा रहे है, इसके बारे में जानकारी प्राप्त करने के लिए आपको यह आर्टिकल पूरा पढ़ना है. निचे बताई जा रही प्रक्रिया निम्न है.

  • इस योजना के अंतर्गत आवेदन करने के लिए आपको सबसे पहले अपने नज़दीकी पोस्ट ऑफिस में जाना है.
  • अब वहां से आपको स्कीम के बारे में विस्तार से जानने के बाद इससे संबंधित आवेदन पत्र लेना है.
  • इस आवेदन पत्र को लेने के बाद इसमें पूछी गयी सभी जानकारी को ध्यान से भरे. जैसे कि नाम, पता आदि.
  • इन सभी को भरने के बाद अब इसमें सभी मुख्य दस्तावेजों को अटैच करना है.
  • अब इस कम्प्लीट फॉर्म को ले जा कर अब वापस से पोस्ट ऑफिस में जमा कर दे.
  • इस तरह से आप इस योजना के अंतर्गत आवेदन कर सकेंगे.

NEW UPDATE : स्कीम में निवेश करने के कुछ दिशा निर्देश

  • दोस्तों इस स्कीम में निवेश करने से पहले उसके बारे में आपको यह सुनिश्चित करना है कि जिस में आप निवेश करने जा रहे है वो आपके लिए सही है या नहीं, इसके लिए सबसे पहले आप सारी टर्म्स एंड कंडीशंस को अच्छे से पढ़ ले.
  • दोस्तों किसी भी योजना में निवेश करने से पहले अपनी पात्रता की जांच ज़रूर कर ले अगर नहीं किया अपने ऐसा तो आपका निवेश अस्वीकार किया जा सकता है.
  • इस स्कीम के तहत खाता खुलवाते समय आपको निवेश की शर्तों का ध्यान रखना होगा.
  • पोस्ट ऑफिस सेविंग स्कीम में निवेश करने से पहले स्कीम की न्यूनतम एवं अधिकतम निवेश राशि जमा करने की नियम व शर्तों का भी ध्यान रखना होगा. आपको यह सुनिश्चित करना होगा कि आप हर साल न्यूनतम निवेश कर सकते हैं या नहीं.
  • अगर इस स्कीम में आप हर साल न्यूनतम निवेश नहीं कर पाते हैं तो इस स्थिति में आपके खाते को डिफॉल्ट कर दिया जाता है. आपको इस बात का खास ध्यान रखना होगा कि आपका खाता डिफॉल्ट ना किया जाए. अगर खाता डिफॉल्ट किया जाता है तो आपको खाते को दोबारा से खुलवाने के लिए पेनल्टी का भुगतान करना होगा.
  • पोस्ट ऑफिस में किसी भी स्कीम के अंतर्गत निवेश करने से पहले आपको यह सुनिश्चित करना होगा कि आपके पास सभी महत्वपूर्ण दस्तावेज उपलब्ध है या नहीं.
  • आपको यह सुनिश्चित करना होगा कि जिस योजना में आप निवेश कर रहे हैं वह आपको समय से लाभ पहुंचा पाएगी या नहीं.

Post Office Saving Scheme 2021 FaQs

पोस्ट ऑफिस सेविंग स्कीम 2021 क्या है ?

इस योजना के अंतर्गत निवेश करके निवेशकों को उच्च ब्याज दर के साथ साथ कर लाभ भी प्रदान किया जाता.

इस योजना को जारी करने का उद्देश्य क्या है ?

इस योजना को जारी करने का उद्देश्य लोगो को बचत करने के लिए प्रोत्साहित करना है, ताकि वह भविष्य के लिए अपने पैसे बचा कर रख सकते है.

इस योजना में आवेदन करने की पात्रता क्या है?

इसमें आवेदन करने की पात्रता में आवेदक का भारत का स्थाई निवासी होना अनिवार्य है.

इस योजना के अंतर्गत आवेदन करने की प्रक्रिया क्या है ?

इस योजना में आवेदन करने की प्रक्रिया के बारे में हमने अपने इस आर्टिकल में बताया है जानने के लिए आपको यह आर्टिकल पूरा पढ़ने की ज़रूरत है

.

Leave a Comment