स्वामी विवेकानंद ऐतिहासिक पर्यटन यात्रा योजना 2021, Online Ragistration

Swami Vivekananda Etihasik Paryatan Yatra Yojana 2021, स्वामी विवेकानंद ऐतिहासिक पर्यटन यात्रा योजना ऑनलाइन आवेदन, जानिए पात्रता व लाभ

भारत देश में लोगो में धर्म व आस्था का काफी महत्व है. ऐसे में सरकार द्वारा भी नागरिकों की धार्मिक भावनाओं का ध्यान रखा जाता है. वही बात करते है धार्मिक यात्राओं से जुड़ी तो कई लोग ऐसे है जोकि आर्थिक रूप से कमज़ोर होने के चलते तीर्थ यात्रा पर नहीं जा पाते और उनका सपना सपना ही रह जाता है. ऐसे में अभी उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा ऐसे लोगो की मदद करने के लिए एक नयी योजना की शुरुआत की गयी है.

जिसका नाम है ‘ स्वामी विवेकानंद ऐतिहासिक पर्यटन यात्रा योजना’ यह योजना क्या है ? इस योजना का लाभ क्या है? उद्देश्य, पात्रता, महत्वपूर्ण दस्तावेज, आवेदन प्रक्रिया आदि के बारे में हम आपको बता रहे है. इस योजना से जुड़ी सभी जानकारी विस्तार से प्राप्त करने के लिए आपको हमारे द्वारा लिखा गया यह आर्टिकल पूरा पढ़ने की ज़रूरत है.

Swami Vivekananda Etihasik Paryatan Yatra Yojana 2021

उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा ‘स्वामी विवेकानंद ऐतिहासिक पर्यटन यात्रा योजना’ की शुरुआत की गयी है. इस योजना के अंतर्गत श्रमिकों को धार्मिक यात्रा के लिए आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी. इसमें सहायता राशि 12000 रुपये होगी. राज्य के उन श्रमिकों को इस योजना का लाभ मिलेगा जोकि श्रमिक लेबर बोर्ड के अंतर्गत पंजीकृत है. इस योजना का लाभ 20,500 फैक्टरी में काम करने वाले 6.5 लाख कर्मचारी उठा सकते है. इस योजना का लाभ लेने के लिए इक्छुक लोगो को इसके अंतर्गत आवेदन करना होगा, यह आवेदन कैसे कर सकते है इसके बारे में हमने अपने इस आर्टिकल में बताया है.

अब बात करते है इस योजना को शुरू करने के पीछे सरकार के मुख्य उद्देश्य की तो बता दे कि आर्थिक स्थिति कमज़ोर होने के कारण कई लोग धार्मिक यात्रा पर नहीं जा पाते है, ऐसे में सरकार द्वारा उन्हें धार्मिक यात्रा का अवसर प्रदान किया जा रहा है. Swami Vivekananda Etihasik Paryatan Yatra Yojana 2021 के आ जाने से अब राज्य में कोई भी पैसो की तंगी की वजह से धार्मिक यात्रा से वंचित नहीं रहेगा. उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा उठाया गया यह एक बेहद ही सहारनीय कदम है.

जानिए किन-किन धार्मिक स्थलों को किया गया शामिल?

उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा शुरू की गयी इस योजना के अंतर्गत श्रमिक वर्ग के लोगो को धार्मिक यात्रा करने का सुनहरा अवसर प्रदान किया जा रहा है, अभी हम आपको बताने जा रहे है की किन किन धार्मिक स्थलों को इस योजना के अंतर्गत शामिल किया गया है. जहां पर जाने के लिए श्रमिकों को सरकार द्वारा आर्थिक सहायता प्रदान की जा रही है, स्थल कुछ निम्न प्रकार से है-

  1. अयोध्या
  2. मथुरा
  3. प्रयागराज
  4. वाराणसी
  5. हस्तिनापुर (मेरठ)
  6. गोरखपुर का गोरखनाथ मंदिर
  7. शाकुंभरी देवी
  8. वैष्णो देवी मंदिर

HIGHLIGHTS: Swami Vivekananda Etihasik Paryatan Yatra Yojana 2021

  • स्वामी विवेकानंद ऐतिहासिक पर्यटन यात्रा योजना को उत्तर प्रदेश राज्य सरकार द्वारा शुरू किया गया है.
  • इस योजना का लाभ उत्तर प्रदेश के श्रमिकों को प्रदान किया जायेगा.
  • Swami Vivekananda Etihasik Paryatan Yatra Yojana के अंतर्गत लाभार्थियों को 12000 रुपये की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी.
  • यह आर्थिक सहायता राशि लाभार्थियों को धार्मिक यात्रा के लिए प्रदान की जाएगी.
  • वह सभी श्रमिक जो फैक्ट्रियों में काम करते हैं वह इस योजना का लाभ उठा सकते हैं
  • आर्थिक सहायता मिल जाने से श्रमिक वर्ग के लोग धार्मिक यात्रा कर सकते है जोकि वह अपनी आर्थिक स्थिति कमज़ोर होने के चलते नहीं कर पाते है.
  • उत्तर प्रदेश के जो भी श्रमिक लेबर बोर्ड के अंतर्गत पंजीकृत है वह इस योजना का लाभ ले सकते है.

जानिए योजना की पात्रता व मुख्य दस्तावेज

राज्य के जो भी इक्छुक नागरिक Swami Vivekananda Etihasik Paryatan Yatra Yojana के अंतर्गत लाभ लेने के लिए आवेदन करना चाहते है वह आवेदन करने के पहले इसकी पात्रता व मुख्य दस्तावेज ज़रूर जान ले. हम आपको अपने इस आर्टिकल के माध्यम से इसके बारे में सम्पूर्ण जानकारी विस्तार से प्रदान करने जा रहे है, जानने के लिए आपको हमारे साथ बना रहना होगा, निचे बताई जा रही पात्रता निम्न है-

पात्रता

  • आवेदक उत्तर प्रदेश का स्थाई निवासी होना अनिवार्य है.
  • आवेदक पंजीकृत मजदूर होना चाहिए.
  • राज्य के लेबर वेलफेयर बोर्ड के अंतर्गत आवेदक पंजीकृत होना चाहिए.
  • आवेदक किसी फैक्ट्री में काम कर रहा होना चाहिए.

मुख्य दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • राशन कार्ड
  • आईडी कार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र
  • पासपोर्ट फोटो
  • मोबाइल नंबर

जानिए इस योजना के अंतर्गत आवेदन करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको दिए गए इस लिंक पर क्लिक करना है.
Swami Vivekananda Etihasik Paryatan Yatra Yojana
  • इस पर क्लिक करने के बाद एक फॉर्म खुलेगा.
  • अब आपको इस फॉर्म को डाउनलोड करके प्रिंट निकालना होगा.
  • इसके बाद अब इस फॉर्म में पूछी गई सभी महत्वपूर्ण जानकारी ध्यान से भरनी है.
  • जानकारी भरने के बाद अब सभी महत्वपूर्ण दस्तावेजों को इस फॉर्म से अटैच करना है.
  • अब इस फॉर्म को ले जाकर श्रम विभाग में जमा करना है.
  • इस तरह से आपकी स्वामी विवेकानंद ऐतिहासिक पर्यटन यात्रा योजना के अंतर्गत आवेदन करने की प्रक्रिया पूरी हो जाएगी.

Swami Vivekananda Etihasik Paryatan Yatra Yojana 2021 FaQs

स्वामी विवेकानंद ऐतिहासिक पर्यटन यात्रा योजना क्या है?

उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा शुरू की गयी इस योजना में श्रमिकों को धार्मिक यात्रा के लिए आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी.

योजना के अंतर्गत कितनी आर्थिक राशि मिलेगी?

उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा इस योजना के अंतर्गत 12000 रुपये की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी.

इस योजना में आवेदन करने की पात्रता क्या है?

इसमें आवेदन करने की पात्रता में आवेदक का राज्य का स्थाई निवासी होना अनिवार्य है इसके साथ ही लेबर वेलफेयर बोर्ड के अंतर्गत पंजीकृत होना चाहिए भी ज़रूरी है, अधिक जानकारी के लिए यह आर्टिकल पूरा पढ़े.

इस योजना का लाभ कैसे ले ?

इस योजना का लाभ लेने के लिए सबसे पहले आवेदक को इसके अंतर्गत आवेदन करना होगा, आवेदन कैसे करना है इस बारे में समूर्ण प्रक्रिया हमने अपने इस आर्टिकल में बताई है, जानने के लिए हमारे द्वारा लिखे गए इस आर्टिकल को पूरा पढ़े.

Leave a Comment